Earbuds vs Neckband? दोनों में से कौन सा करना चाहिए Prefer?

एक वक्त था जब नेकबैंड का एक अलग ही तरीके का craze छाया हुआ था। वायर्ड ईयरफोन्स से लोग जल्द हीं नेकबैंड की ओर शिफ्ट होते गए। बिना फोन को हाथ में लिए या लगाए हीं नेकबैंड का इस्तेमाल करना काफी आसान था, जो वायर्ड ईयरफोन्स में मुश्किल था। इसके साथ ही एक और कारण था उसका स्टाइलिश लुक। लेकिन आज मार्केट नेकबैंड को कड़ी टक्कर दे रहे हैं ईयरबड्स। जब नेकबैंड का क्रेज आसमान पर था तब साल 2016 में एपल ने एयरपोड्स लॉन्च किए और फिर तो कुछ हीं समय में नेकबैंड का विकल्प ईयरबड्स की मार्केट में मानो बाढ़ ही आ गई। 

नेकबैंड का वायर थोड़ा हेवी होने की वजह से ड्राइव करते वक्त गिरने की संभावना रहती थी लेकिन ईयरबड्स का फायदा यह है कि वो लाइट वेट होने के साथ हीं दिखने में भी स्टाइलिश लुक देता है। लेकिन बेस्ट ऑप्शन चुनने के लिए ईयरबड्स और नेकबैंड के नोटिस केन्सलेशन, कनेक्टिविटी और साउंड क्वालिटी को भी ध्यान में रखना जरूरी है। 

तो, आखिर सबसे बेस्ट क्या है Earbuds vs Neckband? 

क्या आप भी इसी असमंजस में है की म्यूजिक के लिए और फोन कॉल्स के लिए आखिर ईयरबड्स बेहतर है या नेकबैंड? तो हम आपको सहायता करेंगे इन दोनों में से सहीं विकल्प चुनने की… 

Comfort : 

बात अगर कम्फर्ट की करें तो ईयरबड्स को कैरी करना आसान होता है  इतना ही नहीं लाइट वेट होने के साथ हीं पॉकेट में भी आसानी से रख सकते है। हालांकि लुक की बात करें तो ईयरबड्स के साथ हीं नेकबैंड भी आपको एस्थेटिक और स्पोर्टी लुक देता है। रनिंग, वर्क आउट, ट्रैकिंग, ट्रावेल और कॉलिंग के लिए नेकबैंड अच्छा विकल्प है जबकि वॉकिंग, साइकिलिंग, म्यूजियम का आनंद लेने के लिए ईयरबड्स बेहतर ऑप्शन है। हालांकि कई ईयरबड्स के ज्यादा इस्तेमाल पर कान दर्द करने की शिकायत भी की बार सामने आती रहती है।

Battery Backup : 

स्मार्टफोन हो या कोई और गेजेट्स बैटरी बैकअप के बारे में बहुत ही ज्यादा जरूरी है। ईयरबड्स में आपको Charging carrying case भी मिलता है, इतना ही नहीं प्लेबैक भी आपको 40 घंटे से लेकर 60 घंटे तक का मिल जाता है। जिसकी वजह से आपको बार बार चार्जिंग को हाथ लगाने की जरूरत नहीं पड़ती। इतना ही नहीं आप उसे केरींग केस की मदद से कहीं भी आसानी से चार्ज कर सकते हैं। हालांकि अब नेकबैंड में भी आपको इतने घंटे का प्लेबैक मिल जाता है लेकिन नेकबैंड में वायर होने की वजह उसके बार बार उलझनें की समस्या बनी रहती है। 

Calling Experience : 

प्रीमियम ईयरबड्स जैसे कि Apple एयरपोड्स, सैमसंग, बोट में आपको Noise Cancellation का फीचर मिलता है जिसकी वजह से कॉलिंग के दौरान दूसरे डिस्टर्बेंस नहीं आते। इसलिए अगर आप ईयरबड्स खरीदना चाहते है लेकिन आपका बजट 2 से 5 हजार तक का है तो आपको कॉलिंग के फीचर में समाधान करना पड़ सकता है। नेकबैंड में भी आपको कोई एक्स्ट्रा ऑर्डिनरी फीचर तो नहीं मिलता लेकिन फिर भी कॉलिंग के लिए ईयरबड्स के मुकाबले काफी बेहतर है। नेकबैंड में mic का हिस्सा मुंह के पास आता है जिसकी वजह से बेहतर कॉलिंग एक्सपीरियंस मिलता है। 

Sound Quality : 

अगर कुछ साल पहले की बात करें तो साउंड क्वालिटी के मामले में नेकबैंड को कोई नहीं हरा सकता था लेकिन अब ईयरबड्स इस मामले में सबसे आगे है। वायर्ड ईयरफोन्स के बाद साउंड क्वालिटी में सबसे ज्यादा नेकबैंड को पसंद किया जाता था। लेकिन अब ईयरबड्स की बढ़ती डिमांड के चलते दूसरी कंपनियां भी अब ईयरबड्स पर हीं ज्यादा फोकस कर रही है जिसकी वजह से साउंड क्वालिटी में आए दिन इम्प्रूवमेंट देखा जा रहा है। जबकी नेकबैंड 100% wireless न होने की वजह से उसकी डिमांड में लगातार कमी देखी जा रही है। 

True Wireless : 

Earbuds को true wireless कहां जा सकता है लेकिन नेकबैंड में दो ईयरफोन्स को कनेक्ट करने के लिए वायर का इस्तेमाल किया जाता है, जिसकी वजह से उसे 100% wireless  नहीं कहां जा सकता। लेकिन ईयरबड्स बिना वायर के होने की वजह से को जाने का डर लगा रहता है इतना ही नहीं उसके लिए कैरी केस भी साथ में रखने पड़ते है। लेकिन नेकबैंड में मैग्नेट होने की वजह से आप उसे गले में हीं आसानी से कैरी कर सकते है। 

क्यों चुनें Neckband? :

  • साउंड क्वालिटी
  • युज करने में आसान
  • खो जाने का डर नहीं
  • बेहतर कॉलिंग एक्सपीरियंस

क्यों नहीं चुनें Neckband? :

  • वायर होने की वजह से heavy weight 
  • इस्तेमाल करते वक्त चार्ज नहीं कर सकते
  • कम डिमांड के चलते ने फीचर्स की कमी 
  • कम ऑप्शन

क्यों चुनें Earbuds?

  • इस्तेमाल करने में आसान
  • True Wireless एक्सपीरियंस
  • बेहतर साउंड क्वालिटी
  • बैटरी बैकअप
  • चार्जिंग केस से आसानी से कहीं भी चार्ज किया जा सकता है
  • बहुत सारे ऑप्शन 

क्यों न चुनें Earbuds?

  • खो जाने का डर 
  • एवरेज कॉल क्वालिटी
  • केस अगर खो जाता है तो फिर उसे अलग से नहीं खरीद सकते

सभी फीचर्स, उसके पॉजिटिव और नेगेटिव प्वाइंट को ध्यान में रखकर बात करें तो ईयरबड्स और नेकबैंड दोनों में से सबसे बेहतर ईयरबड्स को कह सकते है। नेकबैंड की तरह ईयरबड्स में भी कई नेगेटिव प्वाइंट है लेकिन सामने मिल रहे फीचर्स को ध्यान में लेकर उसे इग्नोर किया जा सकता है। 

वायर्ड ईयरफोन्स इस्तेमाल करने वालों के लिए डायरेक्ट हीं ईयरबड्स पर शिफ्ट होना थोड़ा मुश्किल हो सकता है लेकिन लाइट वेईट होने के साथ ही उसे carry करने में आसानी और म्यूजिक के बेहतरीन एक्सपीरियंस के चलते ईयरबड्स में switch कर सकते है। अगर आपको को wired earphones हीं चाहते है तो आप नेकबैंड का इस्तेमाल कर सकते है लेकिन ईयरबड्स के मुकाबले नेकबैंड की काफी कम रेंज मिल पाएगी। अगर आपको भूलने की या चीजें को देने की आदत है तो ईयरबड्स आपके लिए महंगे साबित हो सकते है। नेकबैंड इस मामले में आपके लिए एक अच्छा विकल्प रहेगा। अपने लिए बहएतर ऑप्शन ढूंढने से पहले आपको किस तरह के फीचर चाहिए उसे ध्यान में रखकर हीं चुनें।